April13

झुकता है सर आज भी मेरा माँ के आगे
कौन कहता है काफ़िर का खुदा नहीं होता

posted under Shayari

Email will not be published

Website example

Your Comment: